Barish Quotes in Hindi, Shayari, status with images

We will read Collection of the Barish Quotes in Hindi, Shayari, status, one-liners with images for loved ones like Girlfriend, boyfriend, husband, wife, and others.

ऋतुओं में सबसे सुखदाई ऋतू सावन को माना गया है। इस समय प्रकृति अपने चरम आनंद पर रहती है।चारों ओर सुख का संचार होता है,प्रकृति एक नए दिव्य रूप में प्रकट होती है। चारों ओर हरियाली खुशहाली की बयार बहती है।

इस महीने में हिंदू मान्यता के कई त्यौहार तथा उत्सव मनाए जाते हैं। जैसे हरियाली तीज कावड़ यात्रा आदि। आज हम उन सब से संबंधित कोट्स को लिख रहे हैं,आशा है आपको पसंद आए।

Barish Quotes, Shayari, one-liners in Hindi with images

भारत में ऋतुओं का जितना आनंद प्राप्त होता है अन्य देशों में दुर्लभ है। अर्थात भारत में जितने ऋतु और मौसम है। उतने अन्य देशों में नहीं होते। इन ऋतुओं में सावन का विशेष महत्व है।

यह सुख की अनुभूति कराने वाला मौसम है।

इस मौसम में व्यक्ति का चित आनंदित रहता है। प्रेमी प्रेमिकाओं के लिए यह मौसम तो अमृत के समान है जिसमें प्रेम की प्रबल इच्छा चरम सीमा पर होती है।

Barish quotes in Hindi

1

तड़पाती यूँ ना यह बारिश मुझे

गर दो पल तेरी बाहों में

बिताया ना होता। । 

2

तेरी आंखों में एक जंगल सा है

जिसमें एक सावन बरसता है

मैं एक प्यासे पक्षी सा

तेरी ओर बढ़ता जाता हूं

उस बूंद की तलाश में

पग-पग फंसता जाता हूं

3

एक मासूम से इश्क का बस इतना ही फ़साना है

हो एक कश्ती अपनी जिस पर चड़ भी जाना है। । 

4

शबाब पर है यह गर्मी कि कभी सावन की फुहार पड़े

खड़े हैं उस मोड़ पर आज भी कभी तो तेरी नजर पड़े। । 

5

सोचता हूं मैं भी कि सावन में भीग जाऊं

बस तेरी याद है जो भीगने नहीं देती। । 

हुई बरसात इतनी पर मन को नहीं भाया

यह सावन भी मेरे साजन को नहीं लाया। ।

 

Barish quotes in Hindi for loved one

 

1

गरजो बरसो इतना की बहा दो मेरे सारे गम

भूल जाऊं हमेशा उसे या मिला दो मेरा सनम। ।

2

आजा के अब सहा नहीं जाता

जुदाई का एक पल

सावन में जिधर देखूं

नजर आती हर पल। ।

3

हुई जो कुछ देर बरसात

बेचैन करके चली गई

गुजारे हुए उन लम्हों को

यादों संग तन्हा छोड़ गई। ।

4

सावन की तरह बरसती है मेरी आंखें

बस तुझे देखने को तरसती है मेरी आंखें। ।

5

तड़प है आज भी उस बारिश की

जिस बारिश में

एक छाते के नीचे

दोनों आधे आधे भीगे थे। । 

तेरे प्यार में पडकर मैं चातक बनी फिरती थी

लौट गया बरसात पर सावन नहीं आया।

romantic barish shayari for girlfriend

1

आंखों से मेरी बरसती है सावन की बूंदे

न जाने इन बूंदों को पीने

तू चातक बन कब आएगा। ।

2

वो हुस्न की अदाएं यह सावन की बहार

लिया है आज फिर मोहब्बत में ने पुकार। ।

3

एक आग सी धड़क रही थी जीवन में मेरे

बुझ गई वह आग हमेशा के लिए

सावन बनकर लौटे जो तुम मेरे लिए। ।

4

गए थे जब तुम छोड़कर हमें

तो लगा ये पतझड़ लंबा बीतेगा

हमें क्या मालूम था

यह सावन लेकर लौटेगा। ।

5

चाहत तो बस इतनी सी थी हुजूर

यह सावन बीत जाए तेरे बाहों में। ।

6

बालों से जो सरकता जा रहा है,वो पहले सावन का पानी

है नहीं आसान मोहब्बत करना,बदनाम है यूं ही जवानी। ।

barish shayari 2 line

1

इस सावन एक शरारत मेरे साथ हुई

मेरा घर छोड़ पड़ोस में बरसात हुई। ।

2

सोचा था यह सावन यूं ही लौट जाएगा

लेकिन कुदरत का करिश्मा है

जो सचमुच तुमसे मिला गया। ।

3

सावन का हर एक दिन

यादों के नए झरोखे खोल जाता है

उन झरोकों का छितिज

तुम पर जाकर मिलता है। ।

4

यह बारिश की बूंदे दिन रात तड़पाती है

तेरी याद में बस यूं ही बहती जाती है। ।

5

है जिम्मेदारियां बहुत

तेरे प्यारी यादों को संजोए रखना

बस यह सावन आकर दर्द दे जाता है। । 

 

संबंधित लेख को भी पढ़ें

God Quotes In Hindi

Shri Hanuman quotes in Hindi

Chanakya Quotes in Hindi

Swami Vivekananda Hindi quotes 

Chhatrapati Shivaji Maharaj suvichar 

Rich Quotes in Hindi

Struggle quotes in hindi

Anmol vachan in hindi 

Hindi suvichar on life

Success quotes in hindi

Prernadayak anmol vachan and suvichar in hindi

Hindi quotes on time

Best hindi suvichar and anmol vachan

Subhashita Sanskrit quotes with Hindi meaning

Shayari collection for WhatsApp status

Shubh Ratri Quotes

Hindi Quotes on mother

Health quotes in hindi

Indian Army Quotes in Hindi

Hindi love quotes and Shayari

Love Quotes in Hindi

Sad Quotes in Hindi

 

समापन

सावन का महीना एक और जहां सुकून देता है,वही दुख का कारण भी बनता है। इस समय प्रकृति तथा व्यक्ति के जीवन में हर्षोल्लास का समय रहता है। किंतु विरह की वेदना में या मिलन की आस में जो टीस रह-रहकर उठती है उसका कोई इलाज नहीं है। यह इलाज किसी डॉक्टर के पास या किसी वैद्य के पास नहीं।

बल्कि उस प्रेमी के पास या प्रेमिका के पास है जो एक-दूसरे से दूर है।

विरह की अवस्था में भूख-प्यास सब मर जाती है,बस मिलन की तीव्र इच्छा जागृत रहती है। ऐसे में कोयल की कुक भी कान को प्रिय नहीं लगती बल्कि ऐसा प्रतीत होता है कि कोयल चिढ़ा रही है।

संबंधित लेख के विषय में अपने विचार या सुझाव लिखने के लिए कमेंट बॉक्स में लिखें।

आप अपने प्रेम के विषय में भी लिख कर बता सकते हैं।

साथ ही आपको सावन का महीना और बरसात का समय कैसा लगता है यह भी बताएं।

Leave a Comment